Doubt by आदित्य कुमार राज

सरकारी काम और मंदिर में घंटा हमेशा लटकते रहता है।